General

गुरु गोरखनाथ की मृत्यु कैसे हुई / गुरु गोरखनाथ का जन्म कब और कहा हुआ

Guru-gorakhnath-ki-mrutyu-kaise-hui-janm-kab-kha (2)
Written by legend.robert

गुरु गोरखनाथ की मृत्यु कैसे हुई / गुरु गोरखनाथ का जन्म कब और कहा हुआ – भारत की भूमि प्राचीन समय से ही ऋषि-मुनियों की भूमि रही हैं. जिन्होंने अपने बौद्धिक ज्ञान से सिर्फ भारत में ही नहीं लेकिन संपूर्ण सृष्टि को कुछ ना कुछ योगदान दिया हैं. हमारे प्राचीन ऋषि-मुनियों के द्वारा दिए जाने वाले ज्ञान से हमे सही राह मिलती हैं.

ऋषि-मुनियों द्वारा प्राचीन समय में दिया गया ज्ञान आज भी हमें कही ना कही काम आ रहा हैं. आज हम ऐसे ही एक संत के बारे में बताने वाले हैं. जिनका नाम गुरु गोरखनाथ था.

Guru-gorakhnath-ki-mrutyu-kaise-hui-janm-kab-kha (2)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है की गुरु गोरखनाथ की मृत्यु कैसे हुई. तथा गुरु गोरखनाथ की कहानी और गुरु गोरखनाथ का जन्म कब और कहा हुआ. इस बारे में भी संपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं.

तो आइये हम आपको इस बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

भगवान विष्णु का अंतिम अवतार कौन सा है कल्कि अवतार की पहचान

गुरु गोरखनाथ की मृत्यु कैसे हुई

गुरु गोरखनाथ की मृत्यु नहीं हुई थी. बल्कि उन्होंने खुद समाधि ली थी. आज भी उत्तरप्रदेश में गुरु गोरखनाथ जी के नाम से गोरखपुर नगर हैं. इसी जगह पर गुरु गोरखनाथ ने समाधि ली थी. गोरखपुर में आज भी गुरु गोरखनाथ का भव्य और प्रसिद्ध मंदिर स्थित हैं. जहां श्रद्धालु आज भी उनके दर्शन के लिए जाते हैं.

गुरु चांडाल योग के फायदे, उपाय और लक्षण / गुरु चांडाल दोष क्या होता है

गुरु गोरखनाथ की कहानी

ऐसा माना जाता है की गुरु गोरखनाथ का जन्म किसी स्त्री के गर्भ में से नहीं हुआ था. बल्कि इनका अवतार हुआ था. पुराने सनातन ग्रंथो के अनुसार गुरु गोरखनाथ का जन्म हर युग में हुआ हैं.

कुछ शोधकर्ता और इतिहासकारों का मानना है. की जैसे श्री कृष्ण और भगवान राम एक काल्पनिक किरदार है. उसी तरह गुरु गोरखनाथ भी एक काल्पनिक किरदार हैं. तथा कुछ इतिहासकारों का मानना है. की गुरु गोरखनाथ जी का काल 9 वी शताब्दी के मध्य में था.

gopal sahastranaam benefits in hindi / गोपाल सहस्त्रनाम स्त्रोत्र का पाठ करने की विधि

लेकिन दुनिया का एक मात्र वैज्ञानिक कैलेंडर सनातन पंचाग के अनुसार गुरु गोरखनाथ हर युग में हुए थे. ऐसा माना भी माना जाता है. की भगवान श्री कृष्ण और भगवान राम से भी उनका संवाद हुआ था.

त्रेता युग में गुरु गोरखनाथ के जन्म की कहानी

त्रेता युग में भी गुरु गोरखनाथ ने अवतार लिया था. ऐसा माना जाता है की जब श्री राम का राज्यभिषेक था. तब गुरु गोरखनाथ को भी आमंत्रण मिला था. और वह भगवान श्री राम के उत्सव में शामिल भी हुए थे.

कर्ज मुक्ति रामबाण उपाय | गणेश जी, सूर्यदेवता पूजा कर्ज मुक्ति का रामबाण उपाय

द्रापर युग में गुरु गोरखनाथ के जन्म की कहानी

अब कई हिंदू ग्रंथो के अनुसार ऐसा भी माना जाता है. की द्रापर युग में भी गुरु गोरखनाथ ने अवतार लिया था. उस समय गुजरात में स्थित जूनागढ़ गोरखमढ़ी में तप किया था. इसी जगह पर श्री कृष्ण और रुक्मणि विवाह हुआ था. तब गुरु गोरखनाथ उनके विवाह में सम्मिलित हुए थे.

Guru-gorakhnath-ki-mrutyu-kaise-hui-janm-kab-kha (1)

कलयुग में गुरु गोरखनाथ के जन्म की कहानी

अगर बात की जाए कलयुग की तो ऐसा माना जाता है. की एक समय बाप्पा रावल नाम के राजकुमार घूमते-घूमते बिच जंगल में पहुंच गए. तब उन्होंने जंगल में तेजस्वी साधू को तप करते हुए देखा. वह गुरु गोरखनाथ जी थे.

मानसिक तनाव से मुक्ति का अचूक मंत्र | नकारात्मक ऊर्जा खत्म करने का मंत्र

बाप्पा रावल ने उनके तेज और ध्यान से प्रभावित होकर वही रहना शुरू कर दिया. और उनकी सेवा करने लगे. जब गुरु गोरखनाथ का ध्यान टुटा तो वह बाप्पा रावल की सेवा से प्रसन्न हो गए. और उन्होंने एक तलवार बाप्पा रावल को आशीर्वाद के रूप में दी. बाद में बाप्पा रावल ने इसी तलवार से मुगलों को हराया. और चितोड़ राज्य की स्थापन की.

गुरु गोरखनाथ का जन्म कब और कहा हुआ

जैसे की हमने ऊपर बताया गुरु गोरखनाथ के जन्म के बारे में सभी इतिहारकारों के अलग-अलग मंतव्य हैं. कुछ लोगो का मानना है की गुरु गोरखनाथ का जन्म सभी युगों में हुआ था. इनका जन्म भी किसी स्त्री के गर्भ से नहीं हुआ हैं. यह एक अवतारी संत थे.

पूजा कब नहीं करनी चाहिए | सुबह कितने बजे उठकर पूजा करनी चाहिए

लेकिन ऐसा भी माना जाता है की गुरु गोरखनाथ का जन्म प्रथम शताब्दी में हुआ था. और उन्होंने पुरे भारत में भ्रमण किया था. कुछ पुराणों के अनुसार गुरु गोरखनाथ भगवान शिव के अवतार भी माने जाते हैं.

Guru-gorakhnath-ki-mrutyu-kaise-hui-janm-kab-kha (3)

भारत में भ्रमण करते समय सबसे पहले गुरु गोरखनाथ नेपाल में दिखे थे. इसी वजह से वहा के लोग गोरखाओ के नाम से जाने जाते हैं. गुरु गोरखनाथ के नाम से ही नेपाल के लोग गोरखाओ के नाम से जाने जाते हैं.

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया की गुरु गोरखनाथ की मृत्यु कैसे हुई. तथा गुरु गोरखनाथ की कहानी और जन्म से जुडी जानकारी प्रदान की हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आप के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह गुरु गोरखनाथ की मृत्यु कैसे हुई / गुरु गोरखनाथ का जन्म कब और कहा हुआ आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

ब्रह्मचर्य के नुकसान क्या है | ब्रह्मचर्य पालन के नियम, अखंड ब्रह्मचर्य क्या है

रुद्राक्ष का पानी पीने के फायदे | रुद्राक्ष की माला पहनने के नियम, फायदे और कीमत 

सिद्ध कुंजिका मंत्र 108 बार करने से क्या होता है | सिद्ध कुंजिका स्तोत्र उत्कीलन मंत्र

About the author

legend.robert

Leave a Comment