General

मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय

Madar-ki-jad-se-santan-prapti-ke-upay-jdi-buti-fayde (3)
Written by legend.robert

मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय / संतान प्राप्ति के लिए जड़ीबूटी – माँ बनना हर महिला का सपना होता हैं. शादी के बाद संतानसुख सबसे अच्छा सुख माना जाता हैं. शादी के बाद कोई भी दंपति यही चाहता है. की उनके घर में जल्द ही बच्चे की किलकारी गूंजे. और उन्हें संतानसुख की प्राप्ति हो.

लेकिन कई बार कुछ शारीरिक कमी या कुछ कारण से दंपति का यह सपना पूरा नही हो पाता हैं. और संतानसुख से दंपति वंचित रह जाता हैं.

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय बताने वाले हैं. तथा संतान प्राप्ति के लिए कुछ जड़ी-बूटी भी बताने वाले हैं.

Madar-ki-jad-se-santan-prapti-ke-upay-jdi-buti-fayde (3)

तो आइये इस बारे में हम आपको संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय

अगर शादी के काफी साल बाद भी दंपति को संतानसुख की प्राप्ति नही हुई है. तो सबसे पहले शुक्रवार के दिन मदार की जड कही से लेकर आए. और स्त्री की कमर पर बांध ले. यह उपाय करने से गर्भधारण हो जाएगा. और संतान प्राप्ति अवश्य ही होगी.

Madar-ki-jad-se-santan-prapti-ke-upay-jdi-buti-fayde (1)

सरस्वती वंदना हिंदी में लिखी हुई / मां सरस्वती तेरे चरणों में प्रार्थना लिखी हुई 

संतान प्राप्ति के लिए जड़ीबूटी

संतान प्राप्ति के लिए कुछ जड़ी-बूटी के उपाय हमने नीचे बताए हैं. यह उपाय करने से निश्चित ही आपको संतान की प्राप्ति होगी.

  • सबसे पहले आपको सफ़ेद चंदन, कदंब के पत्ते और कटेरी की जड़ यह तीनो चीज़े समान मात्रा में यानि की 2-2 ग्राम जितनी लेनी हैं. अब इन तीनो जड़ी-बुट्टी को बकरी के दूध में पीसकर स्त्री को पीला दे. यह उपाय करने से जल्द ही संतान की प्राप्ति होगी. लेकिन ध्यान रखे यह उपाय आपको सप्ताह में कम से कम एक बार तो करना ही हैं.
  • बछड़े वाली गाय के दूध के साथ नागकेसर के चूर्ण को स्त्री को पीलाने से तथा दूध और घी जैसे पौष्टिक आहार लेने से अवश्य ही संतान की प्राप्ति हैं. नागकेसर का चूर्ण आपको 2 ग्राम जितना लेना हैं. तथा यह उपाय लगातार सात दिन तक करना हैं.
  • अगर संतान प्राप्ति नही हो रही है तो यह उपाय भी बड़ा कारगर हैं. सबसे पहले नागबाला, कौंच बिज, लाल मखाने, गोखरू, शतावर और खरेंटी यह सभी जड़ी-बूटी को ले आए. और समान मात्रा में पीस ले. जब चूर्ण बनकर तैयार हो जाए. तो रात के समय सोने से पहले 5 ग्राम जितना चूर्ण दूध में मिलाकर पी ले. संतान प्राप्ति के लिए यह बहुत ही प्रभावशाली उपाय हैं. यह उपाय करने से आपको संतान की प्राप्ति अवश्य ही होगी.

इसमें से कोई भी उपाय करते समय महिला का पेट खाली होना जरूरी हैं. अगर आपका पेट भरा हुआ है. या फिर आपने खाना खा लिया है. तो खाना खाने के तिन घंटे बाद आप यह उपाय कर सकते हैं.

Madar-ki-jad-se-santan-prapti-ke-upay-jdi-buti-fayde (2)

वैसे तो यह सभी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है. इसलिए इसका कोई भी बुरा प्रभाव आपके शरीर पर नहीं पड़ेगा. लेकिन फिर भी अगर यह उपाय करते समय कुछ भी समस्या जैसा लगे तो आयुर्वेदाचार्य से संपर्क जरुर करे.

माला टूटने का मतलब क्या होता है | सपने में माला टूटने का मतलब

मदार के दूध के फायदे क्या है

  • मदार का दूध और घी समान मात्रा में मिलाकर जहा दांत दर्द कर रहा है. वहा लगाने से दर्द तुरंत ही चला जाता हैं.
  • मदार का दूध और शहद समान मात्रा में मिलाकर दाद वाली जगह पर लगाने से दाद की समस्या से छुटकारा मिलता हैं.
  • इसके अलावा मदार के और भी काफी फायदे है. जैसे की मिरगी, श्वास रोग, खांसी, अपच, भगंदर, लकवा, गांठ आदि बीमारी में मदार का उपयोग किया जाता हैं.

मूंगा रत्न की कीमत क्या है | तिकोना मूंगा की कीमत / तिकोना मूंगा के फायदे

मदार की जड़ बांधने के फायदे

अगर किसी महिला को संतान सुख नहीं मिल रहा है. महिला गर्भधारण नही कर पा रही हैं. तो महिला की कमर पर मदार की जड़ बांधने से महिला गर्भवती हो जाती हैं. और दंपति को संतान की प्राप्ति होती हैं.

पन्ना रत्न कितने दिन में असर दिखाता है / असली पन्ना रत्न की कीमत

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय तथा संतान प्राप्ति के लिए जड़ीबूटी बताई हैं. तथा मदार के और भी फायदे आपको बताए हैं.

आप संतान प्राप्ति के लिए इनमें से कोई भी उपाय कर सकते हैं. आपको अचूक ही इन उपाय से लाभ होगा. हम उम्मीद करते है की आपको हमारा यह आर्टिकल उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह मदार की जड़ से संतान प्राप्ति के उपाय  / संतान प्राप्ति के लिए जड़ीबूटी वाला आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद.

स्फटिक की माला किस राशि को पहनना चाहिए | स्फटिक की माला कहां मिलेगी

पैर के नीचे नाम लिखकर वशीकरण मंत्र / तुलसी के पत्ते पर नाम लिखकर वशीकरण

ब्रह्मचर्य के नुकसान क्या है | ब्रह्मचर्य पालन के नियम, अखंड ब्रह्मचर्य क्या है

 

About the author

legend.robert

Leave a Comment