General

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र / भगवान की शक्ति कैसे मिलती है

mayavi-shakti-prapt-krne-ka-mantr-bhagwan-ki-shakti-kaise (1)
Written by legend.robert

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र / भगवान की शक्ति कैसे मिलती है – बहुत से ऐसे लोग होते है जिनका शरीर दिखने में हष्टपुष्ट दिखता है. लेकिन उनके शरीर में शक्ति नही होती हैं. लोग अपने शरीर को शक्तिशाली बनाने के लिए अपने खान-पान पर बहुत अधिक ध्यान रखते हैं. फिर भी वह चाहते है उतनी शक्ति प्राप्त नही कर पाते हैं.

हमारे कमजोर शरीर के कारण हम दुसरे लोगो से डरते हैं. क्योंकि वह लोग हमसे अधिक गुणा बलवान होता हैं.और हम ऐसे लोगो का सामना नही कर पाते हैं.

mayavi-shakti-prapt-krne-ka-mantr-bhagwan-ki-shakti-kaise (1)

दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र आपको बताने वाले हैं. अगर कोई कमजोर है और शक्तिशाली तथा बलवान बनना चाहता है. तो इस आर्टिकल में पूरा मंत्र विधि सहित बताने वाले हैं. तथा अलौकिक शक्ति के चमत्कार भी आपको बताने वाले हैं.

तो आइये इस बारे में आपको संपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं.

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र

हमने मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र और मंत्र विधि नीचे दिए हैं.

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र

ॐ सूर्यपुत्राय विद्महे महाकालाय धीमहि तन्नो यमःप्रचोदयात्

ॐ चतु्र्मुखाय विद्महे हंसारुढ़ाय धीमहि तन्नो ब्रह्मा प्रचोदयात्

ॐ जलबिम्बाय विद्महे नीलपुरुषाय धीमहि तन्नो ब्रह्मा प्रचोदयात्

सृष्टिस्थितिविनाशानां शक्ति भूते सनातनि

गुणाश्रये गुणमये नारायणि  नमोस्तु ते

मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र जाप करने की विधि

इस मंत्र का जाप आपको सुबह के समय स्नान आदि करने के बाद साफ वस्त्र धारण करके करना हैं. स्नान आदि करने के बाद किसी एकांत जगह पर आसन बिछाकर बैठ जाए. अब इस मंत्र का जाप कम से कम 108 बार करे. कुछ दिन तक नियमित रूप से इस मंत्र का जाप करने से आप अपने आप को मायावी शक्ति मिलने जैसा महसूस करेगे.

इस मंत्र जाप से शरीर को शक्ति मिलने के साथ साथ आपके घर के सदस्यों का भी कल्याण होगा. आप पर हमेशा भगवान की कृपा बनी रहेगी.

भगवान की शक्ति कैसे मिलती है

भगवान जैसी अलौकिक और चमत्कारिक शक्ति प्राप्त करने के लिए सबसे पहले कुण्डलिनी जागरण के बारे में जानना होगा. चमत्कारिक शक्तियाँ प्राप्त करने के लिए चक्रीय जागरण की अवस्था से गुजरते हुए कुण्डलिनी जागृत करनी पडती हैं. कुण्डलिनी हमारे शरीर में रीढ़ की हड्डी के सबसे नीचे वलयाकार आकृति में मौजूद होती हैं.

mayavi-shakti-prapt-krne-ka-mantr-bhagwan-ki-shakti-kaise (3)

यह वर्तुल स्थिति में घुमती रहती हैं. यह कुण्डलिनी जागृत करना बहुत ही मुश्किल काम होता हैं. अगर एक बार कुण्डलिनी जागृत हो गई. तो व्यक्ति में भविष्य देखने की क्षमता भी आ जाती हैं.  इस तरीके से भगवान की शक्ति मिलती हैं.

अलौकिक शक्ति के चमत्कार    

अलौकिक शक्ति पाने के बाद व्यक्ति भूतकाल, भविष्यकाल तथा वर्तमान में होने वाली घटनाओं के बारे में पहले से जान सकता हैं. तथा वह व्यक्ति कोई भी चमत्कार करने में सक्षम होता हैं. व्यक्ति काफी बलवान बन जाता हैं.

अलौकिक शक्ति के कुछ चमत्कार हमने नीचे दिए हैं

  • अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद व्यक्ति बिना कोई उपकरण के किसी से भी संपर्क साध सकते हैं.
  • अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद व्यक्ति इतिहास और भविष्य जान सकता हैं.
  • अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद व्यक्ति बिना छुए किसी भी वस्तु को हिला सकता हैं.
  • अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद किसी वस्तु विषय के बारे में ज्ञात नही होने के बाद भी उसके बारे में लिख पाने की क्षमता
  • अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद व्यक्ति किसी दुसरे व्यक्ति की भावनाओं को समझ और महसूस कर सकता हैं.
  • अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद व्यक्ति अपने शरीर को त्याग के दुबारा उसमें आ सकता हैं.

तो अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद यह सभी चमत्कार किसी व्यक्ति में देखने मिलते हैं.

mayavi-shakti-prapt-krne-ka-mantr-bhagwan-ki-shakti-kaise (2)

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र विधि सहित बताया हैं. इसके अलावा भगवान की शक्ति प्राप्त करने के लिए कुण्डलिनी जागृत करनी पड़ती है. इस बारे में भी आपको बताया हैं. तथा अलौकिक शक्ति प्राप्त करने के बाद व्यक्ति में दिखने वाले चमत्कार भी वताए हैं.

अगर आप भी मायावी शक्ति प्राप्त करना चाहते है. तो हमारे द्वारा बताया गया मंत्र जाप विधि सहित करने से आप जो चाहते है. वह आपको मिल जाएगा.

हम उम्मीद करते है की आपको हमारा यह आर्टिकल उपयोगी साबित हुआ होगा.

दोस्तों हम आशा करते है की आपको हमारा यह मायावी शक्ति प्राप्त करने का मंत्र / भगवान की शक्ति कैसे मिलती है आर्टिकल अच्छा लगा होगा. धन्यवाद

About the author

legend.robert

Leave a Comment